उत्तराखंड: राशन डीलरों ने एपीएल कार्ड पर 10-10 किलो गेहूं -चावल की उठाई मांग, हरियाणा-यूपी की तर्ज पर ये वितरण की भी मांग..

देहरादून: जिले के आदर्श रासलिंग डीलर्स वेलफेयर सोसाइटी के एक प्रतिनिधिमंडल ने अपनी चार सूत्री मांगों को लेकर कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य से मुलाकात की। उन्होंने एपीएल कार्ड में प्रति कार्ड 10 किलो गेहूं और 10 किलो चावल का वितरण की मांग उठाई।

प्रतिनिधिमंडल ने मांग उठाई कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत विक्रेताओं को लाभ दिलवाया जाए। बायोमेट्रिक द्वारा कुछ लोगों का उनके साथ एक या दो यूनिट के हैं, उनके फिंगरप्रिंट नहीं आते। समाधान ये है कि उन्हें छोड़ दिया जाए। जैसे हरियाणा-यूपी में सभी सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों पर सरसों का तेल, रिफाइंड, आटा, साबुन इत्यादि सब्सिडी के तौर पर दिया जाता है, वैसे ही उत्तराखंड में भी सभी दुकानों पर उसी तरह से वितरण कराया जाए।

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने इस पर जल्द ही विचार-विमर्श कर कार्यवाही करने का भरोसा दिया। राशन विक्रेताओं के प्रदेश महामंत्री संजय शर्मा ने कहा राशन के गोदामों में बड़े तोल कांटे लगाए जाएं, जिससे गोदाम में पूर्ण राशन उपलब्ध हो सके। राशन विक्रेताओं को भी पूरा खाद्यान्न तोल कर मिले।

आदर्श राशन डीलर वेलफेयर सोसाइटी की टीम में प्रदेश महासचिव संजय शर्मा, ब्लॉक विकास नगर के अध्यक्ष राममूर्ति गुप्ता, जिला महामंत्री रवि शर्मा, संजय गुप्ता, विनोद गुप्ता, आनंद खड़का, जिला अध्यक्ष दिनेश चौहान आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!