UKSSSC भर्ती धांधली में अब सचिवालय में तैनात अपर निजी सचिव गिरफ्तार, बेरोजगारों से इतना बड़ा खिलवाड़..

देहरादून: उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक (UKSSSC Paper Leak Case) मामले में उत्तराखंड स्पेशल टास्क फोर्स (STF Uttarakhand) की ताबड़तोड़ कार्यवाही जारी है। मामले के जांच की आंच अब उत्तराखंड सचिवालय तक पहुंच गई है। एसटीएफ ने सचिवालय में तैनात निजी सचिव गौरव चौहान को गिरफ्तार कर लिया है।

UKSSSC Paper Leak Case: STF Uttarakhand ने अपर निजी सचिव किया गिरफ्तार

एसटीएफ ने आज शाम सचिवालय के लोक निर्माण एवं वन विभाग में कार्यरत अपर निजी सचिव गौरव चौहान को बयान के लिए कार्यालय बुलाया। इसके बयान दर्ज करने के बाद पूछताछ में एसटीएफ के हाथ पुख्ता सबूत लगे। तीन से चार घंटे की पूछताछ के बाद आरोप स्वीकारने पर चौहान को गिरफ्तार कर लिया गया।

वहीं मामले (UKSSSC Paper Leak Case) में पहले से गिरफ्तार अभियुक्तो और अन्य छात्रों से गहन पूछताछ के आधार पर और पुख्ता साक्ष्यों में मनोज जोशी (कोर्ट कर्मचारी) और अभियुक्त तुषार चौहान से परीक्षा प्रश्न पत्र लीक के संबंध में जानकारी ली। पूछताछ में तुषार ने अपने रिश्तेदार गौरव चौहान के भी प्रकरण में शामिल होने की बात कही।

अभियुक्त द्वारा दो अभ्यर्थियों से 15 – 15 लाख में सौदा तय हुआ था। जिसमे 24 लाख अभियुक्त ने अभ्यर्थी के माध्यम से एग्जाम के रिजल्ट बाद प्राप्त किए गए थे। शेष का भुगतान अन्य को परीक्षा से पहले किया गया था। पूछताछ और उपलब्ध साक्ष्य व इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्यों के आधार पर उपरोक्त गिरफ्तारी की गई। अब तक इस मामले में कुल 15 आरोपित गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

वहीं एसएसपी (एसटीएफ) अजय सिंह ने अपील की है कि, जिन अभ्यर्थियों ने परीक्षा में अनुचित साधन का प्रयोग किया है, वो खुद कार्यालय आकर अपने बयान शीघ्र दर्ज कराए। अभी तक कई छात्रों ने अपनी गलती स्वीकार की है।

एसटीएफ उत्तराखंड (STF Uttarakhand) को अनुचित साधनों से क्वालीफाई करने वाले अभ्यर्थियों की लगातार जानकारी मिल रही है, भविष्य में उनकी गिरफ्तारी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!