Chardham Yatra 2022: चारों धामों में रोजाना दर्शन करने की संख्या तय, यात्रा पर आने वालों को इन नियमों का भी रखना होगा ध्यान..

Chardham Yatra 2022: उत्तराखंड में 03 मई से चारधाम यात्रा शुरू होने जा रही है. चारों धामों में रोजाना दर्शन करने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या तय कर दी गई है. यह व्यवस्था यात्रा के शुरुआती 45 दिन के लिए तय की गई है. राज्य की भौगोलिक परिस्थितियों, धामों में श्रद्धालुओं की दर्शन क्षमता और मंदिर परिसरों की क्षमता को देखते हुए यह व्यवस्था की गई है. मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिए गए निर्णय के क्रम में सचिव संस्कृति, धर्मस्व, तीर्थाटन प्रबंधन एवं धार्मिक मेला हरिचंद्र सेमवाल ने इस संबंध में आदेश जारी किये.

किस धाम में कितने यात्री रोज दर्शन करेंगे

धाम का नाम  प्रतिदिन यात्री संख्या 
बदरीनाथ 15 हजार
केदारनाथ 12 हजार
गंगोत्री  07 हजार
यमुनोत्री 04 हजार

वहीं चारधाम यात्रा के लिए श्रद्धालुओं को पंजीकरण कराना अनिवार्य किया गया है. श्रद्धालु पर्यटन विभाग की वेबसाइट https://registrationandtouristcare.uk.gov.in/ पर ऑनलाइन पंजीकरण करा सकते हैं. इसके साथ ही ऑफलाइन पंजीकरण के लिए 15 केंद्र खोले जाने हैं. फिलहाल ऋषिकेश, हरिद्वार, सोनप्रयाग और पाखी में आफलाइन पंजीकरण की व्यवस्था की गई है. अभी तक 3 लाख 56 हजार 148 लोग चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण करा चुके हैं. अब तक यमुनोत्री के लिए 59395, गंगोत्री के लिए 61403, केदारनाथ के लिए 128696, बदरीनाथ के लिए 103692 और श्री हेमकुंड धाम के लिए 2962 यात्रियों ने अपना पंजीकरण कराया है.

इसके अलावा अन्य राज्यों के लोग बेरोकटोक यहां आ-जा सकेंगे. क्योंकी सरकार ने अन्य राज्यों से आने वाले तीर्थ यात्रियों के लिए फिलहाल कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट अथवा अन्य कोई पाबंदी नहीं लगाई है. हालांकि यात्रा के दौरान कोविड गाइडलाइन का पालन करना आवश्यक है. इसके तहत मास्क व सैनिटाइजर का उपयोग और स्वास्थ्य विभाग की ओर से समय-समय पर जारी कोविड प्रोटोकाल का अनिवार्य रूप से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाएगा.

यात्रा के दौरान राज्य में आने वाले तीर्थ यात्रियों की जान-माल की सुरक्षा के मद्देनजर यात्रा मार्गों पर रात्रि 10 बजे से सुबह चार बजे तक वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित रहेगा.

किस धाम के कब खुलेंगे कपाट

यमुनोत्री:    03 मई, दोपहर 12:15 बजे

गंगोत्री:      03 मई, 11:15 बजे पूर्वाह्न

केदारनाथ:    06 मई, 6:25 बजे सुबह

बदरीनाथ:     08 मई, 6:15 बजे सुबह

हेमकुंड और लोकपाल:   22 मई 2022

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
error: कॉपी नहीं, शेयर कीजिए!